The news is by your side.

कप्तान कोहली ने बल्लेबाजों के सिर फोड़ा हार का ठीकरा, इस एक गलती से पलट गया पूरा मैच

0

स्पोर्ट्स डेस्क, अमर उजाला
Updated Sun, 13 Jan 2019 11:28 AM IST

Related Posts

ख़बर सुनें

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सिडनी में खेले गए पहले वनडे मैच में टीम इंडिया को 34 रन से हार का सामना करना पड़ा है। ऑस्ट्रेलिया की 289 रन की चुनौती के सामने टीम इंडिया 9 विकेट गंवाकर सिर्फ 254 रन ही बना सकी।

तीन मैची की इस वनडे सीरीज में ऑस्ट्रेलिया ने 1-0 की बढ़त हासिल कर ली है। वहीं टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने इस हार की ठीकरा बल्लेबाजों पर फोड़ा है। मैच प्रजेंटेशन के दौरान कोहली ने मैच हारने की वजह का खुलासा भी किया।

शुरुआत में तीन विकेट गंवाना महंगा पड़ा
कोहली ने कहा, ‘हम अपने खेल से संतुष्ट नहीं है। गेंदबाजों ने अच्छा काम किया था। ये तीन सौ से ऊपर के स्कोर का विकेट था। इस लक्ष्य को हासिल किया जा सकता था। शुरुआत में तीन विकेट गंवाना कभी अच्छा नहीं होता। रोहित ने असाधारण पारी खेली और धोनी से उन्हें अच्छा सहयोग दिया लेकिन धोनी के आउट होने के बाद रोहित पर दबाव आ गया। अगर हम एक साझेदारी कर पाते तो मैच का नतीजा दूसरा होता। ऑस्ट्रेलिया ने हमें वापसी का मौका नहीं दिया।’

युवा पेसर रिचर्डसन का भविष्य उज्जवल: फिंच
ऑस्ट्रेलियाई कप्तान आरोन फिंच ने अपने युवा गेंदबाज जाए रिचर्डसन को सराहा। उन्होंने कहा, ‘युवा जाए आत्मविश्वास से लबरेज थे। उनका भविष्य उज्ज्वल है।’ उन्होंने कहा, ‘हमें पता था कि वे मैच को आखिरी ओवरों तक खींचने की कोशिश करेंगे और हम भाग्यशाली रहे कि विकेट ले सके और उन्हें रोक सके। कोई भी टीम शुरुआत में 3 विकेट गंवाकर दबाव में आ जाएगी और 3 बड़े बल्लेबाजों का विकेट लेना जरूरी था।’

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सिडनी में खेले गए पहले वनडे मैच में टीम इंडिया को 34 रन से हार का सामना करना पड़ा है। ऑस्ट्रेलिया की 289 रन की चुनौती के सामने टीम इंडिया 9 विकेट गंवाकर सिर्फ 254 रन ही बना सकी।

तीन मैची की इस वनडे सीरीज में ऑस्ट्रेलिया ने 1-0 की बढ़त हासिल कर ली है। वहीं टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने इस हार की ठीकरा बल्लेबाजों पर फोड़ा है। मैच प्रजेंटेशन के दौरान कोहली ने मैच हारने की वजह का खुलासा भी किया।

शुरुआत में तीन विकेट गंवाना महंगा पड़ा
कोहली ने कहा, ‘हम अपने खेल से संतुष्ट नहीं है। गेंदबाजों ने अच्छा काम किया था। ये तीन सौ से ऊपर के स्कोर का विकेट था। इस लक्ष्य को हासिल किया जा सकता था। शुरुआत में तीन विकेट गंवाना कभी अच्छा नहीं होता। रोहित ने असाधारण पारी खेली और धोनी से उन्हें अच्छा सहयोग दिया लेकिन धोनी के आउट होने के बाद रोहित पर दबाव आ गया। अगर हम एक साझेदारी कर पाते तो मैच का नतीजा दूसरा होता। ऑस्ट्रेलिया ने हमें वापसी का मौका नहीं दिया।’

युवा पेसर रिचर्डसन का भविष्य उज्जवल: फिंच
ऑस्ट्रेलियाई कप्तान आरोन फिंच ने अपने युवा गेंदबाज जाए रिचर्डसन को सराहा। उन्होंने कहा, ‘युवा जाए आत्मविश्वास से लबरेज थे। उनका भविष्य उज्ज्वल है।’ उन्होंने कहा, ‘हमें पता था कि वे मैच को आखिरी ओवरों तक खींचने की कोशिश करेंगे और हम भाग्यशाली रहे कि विकेट ले सके और उन्हें रोक सके। कोई भी टीम शुरुआत में 3 विकेट गंवाकर दबाव में आ जाएगी और 3 बड़े बल्लेबाजों का विकेट लेना जरूरी था।’

Loading...