The news is by your side.

हडसन नदी के किनारे मृत पाई गई सऊदी अरब की दो बहनों ने की थी आत्महत्या

0

ख़बर सुनें

न्यूयॉर्क में एक नदी के किनारे टेप से बंधी पाई गई सऊदी अरब की दो बहनों ने आत्महत्या की थी। शहर के चिकित्सा विशेषज्ञ ने मंगलवार को यह जानकारी दी। रोताना फारिआ (22) और उसकी बहन ताला (16) अक्टूबर में हडसन नदी के किनारे मृत पाई गई थीं। उनके शरीर पर चोट के कोई निशान नहीं थे। 

दोनों ने एक साथ अपने आप को टेप से एड़ियों और कमर से बांधा हुआ था। मुख्य चिकित्सा विशेषज्ञ बारबरा सैम्पसन ने कहा, ‘‘मेरा कार्यालय यह पुष्टि करता है कि फारिया बहनों की मौत आत्महत्या से हुई जिसमें युवतियों ने हडसन नदी में कूदने से पहले अपने आप को टेप से बांध लिया था।’’ 

उनकी मौत के बाद एक पुलिस अधिकारी ने इस बात की पुष्टि की थी कि दोनों बहनों ने अमेरिका में शरण के लिए आवेदन दिया था। वाशिंगटन में सऊदी अरब के दूतावास की प्रवक्ता फातिमा बाशेन ने कहा, ‘‘ये खबरें सही नहीं हैं कि हमने सऊदी अरब की बहनों ताला और रोताना फारिआ से संबंधित किसी भी व्यक्ति को शरण मांगने की वजह से अमेरिका छोड़ने के लिए कहा है।’’ 

ये दोनों बहने वर्जीनिया में अपने परिवार के घर से कई बार भाग चुकी थीं। वह साल 2017 से परिवार के साथ नहीं रह रही थीं। वे एक शरणार्थी गृह में रह रही थीं लेकिन उन्होंने अगस्त में वर्जीनिया छोड़ दिया और न्यूयॉर्क चली गई थीं। 

अमेरिकी मीडिया ने पुलिस को यह कहते हुए उद्धृत किया है कि दोनों बहनों ने संकेत दिया था कि सऊदी अरब लौटने के बजाय वे खुद को नुकसान पहुंचाएंगी। 

न्यूयॉर्क में एक नदी के किनारे टेप से बंधी पाई गई सऊदी अरब की दो बहनों ने आत्महत्या की थी। शहर के चिकित्सा विशेषज्ञ ने मंगलवार को यह जानकारी दी। रोताना फारिआ (22) और उसकी बहन ताला (16) अक्टूबर में हडसन नदी के किनारे मृत पाई गई थीं। उनके शरीर पर चोट के कोई निशान नहीं थे। 

दोनों ने एक साथ अपने आप को टेप से एड़ियों और कमर से बांधा हुआ था। मुख्य चिकित्सा विशेषज्ञ बारबरा सैम्पसन ने कहा, ‘‘मेरा कार्यालय यह पुष्टि करता है कि फारिया बहनों की मौत आत्महत्या से हुई जिसमें युवतियों ने हडसन नदी में कूदने से पहले अपने आप को टेप से बांध लिया था।’’ 

उनकी मौत के बाद एक पुलिस अधिकारी ने इस बात की पुष्टि की थी कि दोनों बहनों ने अमेरिका में शरण के लिए आवेदन दिया था। वाशिंगटन में सऊदी अरब के दूतावास की प्रवक्ता फातिमा बाशेन ने कहा, ‘‘ये खबरें सही नहीं हैं कि हमने सऊदी अरब की बहनों ताला और रोताना फारिआ से संबंधित किसी भी व्यक्ति को शरण मांगने की वजह से अमेरिका छोड़ने के लिए कहा है।’’ 

ये दोनों बहने वर्जीनिया में अपने परिवार के घर से कई बार भाग चुकी थीं। वह साल 2017 से परिवार के साथ नहीं रह रही थीं। वे एक शरणार्थी गृह में रह रही थीं लेकिन उन्होंने अगस्त में वर्जीनिया छोड़ दिया और न्यूयॉर्क चली गई थीं। 

अमेरिकी मीडिया ने पुलिस को यह कहते हुए उद्धृत किया है कि दोनों बहनों ने संकेत दिया था कि सऊदी अरब लौटने के बजाय वे खुद को नुकसान पहुंचाएंगी।