The news is by your side.

विश्व कप का प्रबल दावेदार है यह खिलाड़ी! बोला- कर रहा हूं अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन

0

ख़बर सुनें

मोहम्मद शमी विश्व कप टीम में जगह बनाने के प्रबल दावेदार के रूप में उभरे हैं और फार्म में चल रहे इस भारतीय तेज गेंदबाज ने बुधवार को एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में सफल वापसी का श्रेय पिछले 12 महीने में टेस्ट क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन को दिया। 

शमी ने अक्टूबर में वेस्टइंडीज के खिलाफ घरेलू सीरीज के साथ वन-डे अंतरराष्ट्रीय टीम में वापसी की थी। आस्ट्रेलिया में टेस्ट और एकदिवसीय मैचों में शानदार प्रदर्शन करने वाले शमी ने न्यूजीलैंड में पहले एकदिवसीय मैच में भी धारदार गेंदबाजी करते हुए 19 रन देकर तीन विकेट चटकाए। 28 वर्षीय तेज गेंदबाज फिटनेस और निजी जिंदगी के मुद्दों से उबरकर भारत के लिए सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर रहा है।

एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में सबसे कम मैचों में 100 विकेट चटकाने वाले भारतीय गेंदबाज बने शमी ने कहा, ‘यह लंबी यात्रा रही। मैं 2015 विश्व कप में खेला, इसके बाद चोटिल हो गया और मुझे उबरने में दो साल लगे। रिहैबिलिटेशन के बाद मैंने 2016 विश्व टी-20 टीम में जगह बनाई। इसके कुछ समय बाद मेरे अंदर पूर्ण आत्मविश्वास आया और मैंने महसूस किया कि मैं पटरी पर लौट आया हूं।’

उन्होंने कहा, ‘आपने 2018 में देखा कि मैंने नियमित रूप से टेस्ट क्रिकेट खेला। आत्मविश्वास का स्तर काफी ऊंचा था। मैं उसी गति से गेंदबाजी कर रहा हूं जैसे पहले किया करता था। उम्मीद करता हूं कि यह जारी रहेगा।’ 

शमी आस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत की ऐतिहासिक टेस्ट श्रृंखला जीत के दौरान 16 विकेट के साथ जसप्रीत बुमराह और नाथन लियोन (दोनों 21 विकेट) के बाद सबसे सफल गेंदबाज रहे जिससे आस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन मैचों की वन-डे सीरीज से पहले उनका आत्मविश्वास काफी बढ़ा हुआ था। 

उन्होंने कहा, ‘मुझे टेस्ट क्रिकेट अन्य प्रारूपों से अधिक पसंद है। पिछली तीन-चार सीरीज में हमने जिस तरह का प्रदर्शन किया है (गेंदबाजी इकाई के रूप में), इससे हमारा आत्मविश्वास बढ़ा है। अगर गेंदबाजी इकाई नतीजे दे रही है तो दबाव बंट जाता है और आपको अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने में मदद मिलती है।’ 
 

शमी भले ही शानदार फार्म में हों लेकिन विश्व कप टीम में जगह बनाने को लेकर चिंतित नहीं हैं। विश्व कप का आयोजन इंग्लैंड में 30 मई से होना है। उन्होंने कहा, ‘मैं काफी आगे के बारे में नहीं सोच रहा। यह जब टीम चुनी जाएगी तब मेरी फिटनेस और प्रदर्शन पर निर्भर करेगा। जैसा मैंने कहा, हमारे पास सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी इकाई है। वे किसी को भी चुन सकते हैं।’

बुधवार को मैन आफ द मैच प्रदर्शन के बारे में पूछने पर शमी ने कहा, ‘यह बड़े स्कोर वाली पिच थी। आपकी लाइन और लैंथ सटीक होनी चाहिए। आपको बेहद अनुशासन के साथ गेंदबाजी करनी होगी विशेषकर न्यूजीलैंड के छोटे मैदानों को देखते हुए।’ इनपुट-भाषा

मोहम्मद शमी विश्व कप टीम में जगह बनाने के प्रबल दावेदार के रूप में उभरे हैं और फार्म में चल रहे इस भारतीय तेज गेंदबाज ने बुधवार को एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में सफल वापसी का श्रेय पिछले 12 महीने में टेस्ट क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन को दिया। 

शमी ने अक्टूबर में वेस्टइंडीज के खिलाफ घरेलू सीरीज के साथ वन-डे अंतरराष्ट्रीय टीम में वापसी की थी। आस्ट्रेलिया में टेस्ट और एकदिवसीय मैचों में शानदार प्रदर्शन करने वाले शमी ने न्यूजीलैंड में पहले एकदिवसीय मैच में भी धारदार गेंदबाजी करते हुए 19 रन देकर तीन विकेट चटकाए। 28 वर्षीय तेज गेंदबाज फिटनेस और निजी जिंदगी के मुद्दों से उबरकर भारत के लिए सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर रहा है।

एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में सबसे कम मैचों में 100 विकेट चटकाने वाले भारतीय गेंदबाज बने शमी ने कहा, ‘यह लंबी यात्रा रही। मैं 2015 विश्व कप में खेला, इसके बाद चोटिल हो गया और मुझे उबरने में दो साल लगे। रिहैबिलिटेशन के बाद मैंने 2016 विश्व टी-20 टीम में जगह बनाई। इसके कुछ समय बाद मेरे अंदर पूर्ण आत्मविश्वास आया और मैंने महसूस किया कि मैं पटरी पर लौट आया हूं।’

विज्ञापन