The news is by your side.

ससुराल के लोगों ने युवक की पीट कर की हत्या, सात महीने पहले ही हुई थी शादी

0

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, वाराणसी
Updated Sat, 02 Feb 2019 11:43 AM IST

Related Posts

ख़बर सुनें

उत्तर प्रदेश के वाराणसी में एक युवक की मौत उसके ससुरालियों के पीटने से हो गई। जिसके बाद युवक के परिजनों ने बहु और उसके परिजनों पर हत्या का मुकदमा दर्ज करा दिया। 

लोहता थाना क्षेत्र के मनोरथपुर गांव निवासी रोहित (24) ने 27 जून 2018 को हुकुलगंज के नगीना देवी के साथ कोर्ट मैरिज किया था। परिवार के लोगों ने बताया कि 27 जनवरी को रोहित घर से काम पर निकला जब शाम तक घर नहीं आया तो परिवार के लोगों ने उसकी तलाश की।

उसे खोजते हुए वह उसके ससुराल गये। जहां पर उसके ससुराल के बगल में ही रोहित की बहन पूनम रहती है। उससे पूछने पर पता चला कि रोहित अपनी ससुराल आया था। जब परिवार के लोग ससुराल पहुंचे तो वह घायल पड़ा था। परिजन उसे दिनदयाल अस्पताल ले गये।

वहां से डॉक्टरों ने बीएचयू रेफर कर दिया। वहां भी डॉकटरों ने जवाब दे दिया तो लोहता के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां पर शुक्रवार देर रात उसकी मौत हो गई।

रोहित के पिता बिहारी लाल का आरोप है कि ससुराल के लोगों से किसी बात को लेकर झगड़ा हुआ था। जिससे नाराज ससुराल के लोगों ने उसकी पिटाई कर दी। जिससे गंभीर चोटें आने उसकी मौत हो गई।

उसकी तहरीर पर रोहित की सास मुन्नी देवी, ससुर राम रुप, पत्नी नगीना देवी सहित छह लोगों के खिलाफ 304 आईपीसी के तहत मुकदमा दर्ज हो गया है। रोहित तीन भाईयों मे दूसरे नंबर का था और पेशे से पेंटर था।

उत्तर प्रदेश के वाराणसी में एक युवक की मौत उसके ससुरालियों के पीटने से हो गई। जिसके बाद युवक के परिजनों ने बहु और उसके परिजनों पर हत्या का मुकदमा दर्ज करा दिया। 

लोहता थाना क्षेत्र के मनोरथपुर गांव निवासी रोहित (24) ने 27 जून 2018 को हुकुलगंज के नगीना देवी के साथ कोर्ट मैरिज किया था। परिवार के लोगों ने बताया कि 27 जनवरी को रोहित घर से काम पर निकला जब शाम तक घर नहीं आया तो परिवार के लोगों ने उसकी तलाश की।

उसे खोजते हुए वह उसके ससुराल गये। जहां पर उसके ससुराल के बगल में ही रोहित की बहन पूनम रहती है। उससे पूछने पर पता चला कि रोहित अपनी ससुराल आया था। जब परिवार के लोग ससुराल पहुंचे तो वह घायल पड़ा था। परिजन उसे दिनदयाल अस्पताल ले गये।

वहां से डॉक्टरों ने बीएचयू रेफर कर दिया। वहां भी डॉकटरों ने जवाब दे दिया तो लोहता के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां पर शुक्रवार देर रात उसकी मौत हो गई।

रोहित के पिता बिहारी लाल का आरोप है कि ससुराल के लोगों से किसी बात को लेकर झगड़ा हुआ था। जिससे नाराज ससुराल के लोगों ने उसकी पिटाई कर दी। जिससे गंभीर चोटें आने उसकी मौत हो गई।

उसकी तहरीर पर रोहित की सास मुन्नी देवी, ससुर राम रुप, पत्नी नगीना देवी सहित छह लोगों के खिलाफ 304 आईपीसी के तहत मुकदमा दर्ज हो गया है। रोहित तीन भाईयों मे दूसरे नंबर का था और पेशे से पेंटर था।