The news is by your side.
Loading...

बदरीनाथ और हेमकुंड साहिब में बर्फबारी, हिमाचल में ओलावृष्टि, फसलें तबाह

0

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, शिमला/देहरादून
Updated Mon, 22 Apr 2019 12:56 AM IST

Related Posts

ख़बर सुनें

उत्तर भारत के मैदानी इलाकों में जहां पारा लगातार बढ़ता जा रहा है, वहीं पहाड़ी राज्य हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के ऊंचाई वाले इलाकों में अप्रैल के अंत में भी बर्फबारी और ओलावृष्टि का दौर चल रहा है।

उत्तराखंड के चमोली जिले में रविवार को दोपहर बाद बदरीनाथ, हेमकुंड साहिब, रुद्रनाथ, गौरसों बुग्याल, नंदा घुंघटी के साथ ही ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी हुई। नदी घाटी क्षेत्र में बारिश और ओलावृष्टि से मौसम में ठंडक आ गई है। शनिवार देर रात भी ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी हुई। उधर गोपेश्वर में दोपहर करीब एक बजे आधा घंटे तक ओलावृष्टि भी हुई।

हिमाचल के तीन जिलों शिमला, कुल्लू और मंडी में रविवार दोपहर भारी ओलावृष्टि हुई है। अपर शिमला और कुल्लू के आनी के सेब बहुल इलाकों में फ्लावरिंग के बीच 5 से 25 मिनट तक ओले गिरने से करोड़ों की सेब की फसल तबाह हो गई है। सेब के फूल ही नहीं पत्ते भी झड़ गए हैं।

हिमाचल के मैदानी इलाकों में एक सप्ताह तक मौसम साफ रहेगा। हालांकि, शिमला समेत मध्य और उच्च पर्वतीय क्षेत्रों में 24 और 25 अप्रैल को एक-दो स्थानों में बारिश के आसार हैं।

उत्तर भारत के मैदानी इलाकों में जहां पारा लगातार बढ़ता जा रहा है, वहीं पहाड़ी राज्य हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के ऊंचाई वाले इलाकों में अप्रैल के अंत में भी बर्फबारी और ओलावृष्टि का दौर चल रहा है।

उत्तराखंड के चमोली जिले में रविवार को दोपहर बाद बदरीनाथ, हेमकुंड साहिब, रुद्रनाथ, गौरसों बुग्याल, नंदा घुंघटी के साथ ही ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी हुई। नदी घाटी क्षेत्र में बारिश और ओलावृष्टि से मौसम में ठंडक आ गई है। शनिवार देर रात भी ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी हुई। उधर गोपेश्वर में दोपहर करीब एक बजे आधा घंटे तक ओलावृष्टि भी हुई।

हिमाचल के तीन जिलों शिमला, कुल्लू और मंडी में रविवार दोपहर भारी ओलावृष्टि हुई है। अपर शिमला और कुल्लू के आनी के सेब बहुल इलाकों में फ्लावरिंग के बीच 5 से 25 मिनट तक ओले गिरने से करोड़ों की सेब की फसल तबाह हो गई है। सेब के फूल ही नहीं पत्ते भी झड़ गए हैं।

हिमाचल के मैदानी इलाकों में एक सप्ताह तक मौसम साफ रहेगा। हालांकि, शिमला समेत मध्य और उच्च पर्वतीय क्षेत्रों में 24 और 25 अप्रैल को एक-दो स्थानों में बारिश के आसार हैं।

Loading...
Comments
Loading...