The news is by your side.
Loading...

इंडिया ओपन: मैरीकॉम-सरिता ने मारा गोल्डन पंच, आखिरी दिन जीता स्वर्ण पदक

0

स्पोर्ट्स डेस्क, अमर उजाला
Updated Fri, 24 May 2019 10:12 PM IST

ख़बर सुनें

Related Posts
छह बार की विश्व चैंपियन एमसी मैरीकॉम और अनुभवी एल सरिता देवी ने दूसरे इंडिया ओपन मुक्केबाजी टूर्नामेंट के आखिरी दिन स्वर्ण पदक जीते। एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता अमित पंघाल ने ‘जॉइंट किलर’ सचिन सिवाच से मिली कड़ी चुनौती का सामना करके 4-1 से जीत के साथ 52 किलो वर्ग में पहला स्थान हासिल किया। 

भारत ने इस टूर्नमेंट में पुरुष वर्ग में चार (52 किलो, 81 किलो, 91 किलो और प्लस 91 किलो) और महिला वर्ग में तीन (51 किलो, 57 किलो, 75 किलो) स्वर्ण पदक जीते। कुल मिलाकर भारत की झोली में 18 में से 12 पीले तमगे गए। पिछले साल दिल्ली में हुए पहले टूर्नमेंट में भारत ने छह स्वर्ण पदक जीते थे। विश्व चैंपियनशिप पदक विजेता सरिता देवी ने सिमरनजीत कौर को 3-2 से हराकर तीन साल में पहली बार स्वर्ण जीता। 

पहली बार 60 किलोवर्ग में उतरी सिमरनजीत ने पहले दौर में प्रभावित किया लेकिन उसके बाद सरिता ने शानदार वापसी की। उसने अपना पदक अपनी मां लैशराम खोमथोंबी को समर्पित किया जिनका पिछले साल निधन हो गया था। इस साल की शुरुआत में एशियाई चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीतने वाली सरिता ने आखिरी बार 2016 में शिलांग में हुए दक्षिण एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीता था। 

ओलिंपिक कांस्य पदक विजेता मैरीकॉम ने पूर्व राष्ट्रीय चैंपियन मिजोरम की वनलाल दुआती को हराया। निकहत जरीन और ज्योति को कांस्य पदक मिले। विश्व चैंपियनशिप कांस्य पदक विजेता शिव थापा ने पिछले साल सेमीफाइनल में मिली हार का बदला चुकता करते हुए 60 किलो वर्ग में गत चैंपियन मनीष कौशिक को हराया। 

छह बार की विश्व चैंपियन एमसी मैरीकॉम और अनुभवी एल सरिता देवी ने दूसरे इंडिया ओपन मुक्केबाजी टूर्नामेंट के आखिरी दिन स्वर्ण पदक जीते। एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता अमित पंघाल ने ‘जॉइंट किलर’ सचिन सिवाच से मिली कड़ी चुनौती का सामना करके 4-1 से जीत के साथ 52 किलो वर्ग में पहला स्थान हासिल किया। 

भारत ने इस टूर्नमेंट में पुरुष वर्ग में चार (52 किलो, 81 किलो, 91 किलो और प्लस 91 किलो) और महिला वर्ग में तीन (51 किलो, 57 किलो, 75 किलो) स्वर्ण पदक जीते। कुल मिलाकर भारत की झोली में 18 में से 12 पीले तमगे गए। पिछले साल दिल्ली में हुए पहले टूर्नमेंट में भारत ने छह स्वर्ण पदक जीते थे। विश्व चैंपियनशिप पदक विजेता सरिता देवी ने सिमरनजीत कौर को 3-2 से हराकर तीन साल में पहली बार स्वर्ण जीता। 

पहली बार 60 किलोवर्ग में उतरी सिमरनजीत ने पहले दौर में प्रभावित किया लेकिन उसके बाद सरिता ने शानदार वापसी की। उसने अपना पदक अपनी मां लैशराम खोमथोंबी को समर्पित किया जिनका पिछले साल निधन हो गया था। इस साल की शुरुआत में एशियाई चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीतने वाली सरिता ने आखिरी बार 2016 में शिलांग में हुए दक्षिण एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीता था। 

ओलिंपिक कांस्य पदक विजेता मैरीकॉम ने पूर्व राष्ट्रीय चैंपियन मिजोरम की वनलाल दुआती को हराया। निकहत जरीन और ज्योति को कांस्य पदक मिले। विश्व चैंपियनशिप कांस्य पदक विजेता शिव थापा ने पिछले साल सेमीफाइनल में मिली हार का बदला चुकता करते हुए 60 किलो वर्ग में गत चैंपियन मनीष कौशिक को हराया। 

Loading...
Comments
Loading...