The news is by your side.

क्या आप जनते हैं आपके बच्चे का स्क्रीन टाइम क्या है? जान लें

0

ख़बर सुनें

टीवी, कंप्यूटर, टैबलेट और मोबाइल जैसे इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस की स्क्रीन के सामने बिताए जा रहे समय को कम करने से बच्चे की संज्ञानात्मक क्षमता अच्छी होती है। ‘द लैंसेट चाइल्ड एंड एडोलसेंट हेल्थ जर्नल’ में प्रकाशित नए शोध के अनुसार, 8 से 11 वर्ष की आयु के बच्चों का स्क्रीन टाइम रोजाना दो घंटे कम करने से उनकी मानसिक क्षमता में वृद्धि होती है।

कनाडा के ओटावा में ‘चिल्ड्रेंस हॉस्पिटल ऑफ ईस्टर्न ओंटारियो रिसर्च इंस्टीट्यूट’ के डॉ. जेरेमी वाल्श के अनुसार, बाल चिकित्सकों, पैरेंट्स, शिक्षाविदों और नीति-निर्माताओं को बच्चों और किशोरों के स्क्रीन टाइम को कम करने पर जोर देने और अच्छी नींद को प्राथमिक में रखना चाहिए। इस शोध के लिए 45 हजार बच्चों के स्क्रीन के सामने समय बिताने और संज्ञानात्मक क्षमता के बीच के संबंध का पता लगाया गया था।   

टीवी, कंप्यूटर, टैबलेट और मोबाइल जैसे इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस की स्क्रीन के सामने बिताए जा रहे समय को कम करने से बच्चे की संज्ञानात्मक क्षमता अच्छी होती है। ‘द लैंसेट चाइल्ड एंड एडोलसेंट हेल्थ जर्नल’ में प्रकाशित नए शोध के अनुसार, 8 से 11 वर्ष की आयु के बच्चों का स्क्रीन टाइम रोजाना दो घंटे कम करने से उनकी मानसिक क्षमता में वृद्धि होती है।

कनाडा के ओटावा में ‘चिल्ड्रेंस हॉस्पिटल ऑफ ईस्टर्न ओंटारियो रिसर्च इंस्टीट्यूट’ के डॉ. जेरेमी वाल्श के अनुसार, बाल चिकित्सकों, पैरेंट्स, शिक्षाविदों और नीति-निर्माताओं को बच्चों और किशोरों के स्क्रीन टाइम को कम करने पर जोर देने और अच्छी नींद को प्राथमिक में रखना चाहिए। इस शोध के लिए 45 हजार बच्चों के स्क्रीन के सामने समय बिताने और संज्ञानात्मक क्षमता के बीच के संबंध का पता लगाया गया था।   

Loading...
Comments