The news is by your side.

मैक्सिको, अमेरिका को चुनौती देता आगे बढ़ रहा शरणार्थियों का कारवां

0

ख़बर सुनें

अमेरिका की तरफ बढ़ रहे होंडुरास के हजारों शरणार्थियों का कारवां मैक्सिको और ग्वाटेमाला के बीच एक पुल पर रुककर उत्तर की ओर जाने से पहले नदी पार कर मैक्सिको में घुस गया। ये शरणार्थी नदी में कूदकर मैक्सिको व अमेरिका को चुनौती देते हुए आगे बढ़ गए हैं। जबकि अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने चेताया कि इन्हें अमेरिका की तरफ बढ़ने से रोकने के लिए ‘सभी प्रयास’ किए जा रहे हैं।

गरीबी, अपराध और अस्थिरता से पीड़ित होंडुरास के हजारों लोगों के काफिले ने बेहतर जिंदगी की तलाश में अमेरिका की तरफ कूच किया है। यह कारवां ग्वाटेमाला और मैक्सिको से होते हुए अमेरिकी सीमा तक कई खतरे उठाता हुआ पहुंच रहा है। प्रवासियों ने सूचीआते नदी को पार करने का क्रम देर रात शुरू कर दिया था। मौसमी बारिश के चलते नदी में पानी की तेज रफ्तार के बीच कुछ प्रवासियों ने रात पुल पर बिताई तो कई लोगों ने हिम्मत करके नदी में ही छलांग लगा दी। पुल के नीचे एक मोटी रस्सी बांधकर प्रवासियों ने सीमा पार की। कुछ लोगों ने तैरकर तो कुछ ने राफ्ट पर नदी पार की।

हालांकि मैक्सिको प्रशासन अपने देश और ग्वाटेमाला के बीच सीमा पर बने एक पुल पर इस कारवां को रोकने में कामयाब रहा, लेकिन कई शरणार्थियों ने नदी में घुसने के बाद अमेरिका की तरफ बढ़ना शुरू कर दिया। ट्रंप ने ट्वीट किया, ‘अवैध नागरिकों को हमारी दक्षिणी सीमा पार करने से रोकने के लिए सभी प्रयास किए गए हैं। लोगों को पहले मैक्सिको में शरण के लिए आवेदन देना होगा और अगर वह ऐसा करने में नाकाम रहे, तो अमेरिका उन्हें वापस भेज देगा।’

मैक्सिको की तरफ बढ़ रहा 3000 लोगों का कारवां

संघीय पुलिस कमांडर के अनुमान के अनुसार, करीब 3000 लोगों का कारवां मैक्सिको की तरफ बढ़ रहा है। तकरीबन एक हजार शरणार्थियों में महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं, जो अब भी इस उम्मीद में सीमा पर स्थित पुल पर फंसे हैं कि वे अवैध रूप से ग्वाटेमाला के जरिये मैक्सिको में प्रवेश कर लेंगे। ग्वाटेमाला के राष्ट्रपति जिमी मोराल्स ने कहा कि होंडुरास से 5,000 से भी ज्यादा शरणार्थी ग्वाटेमाला में आये थे, लेकिन उनमें से करीब 2,000 स्वदेश लौट गए हैं।

पुल पर मौजूद हैं क्षमता से अधिक शरणार्थी

मैक्सिको प्रशासन ने पुल पर फंसे महिलाओं और बच्चों के लिए सीमा खोल दी और उन्हें सियुडैड हिडाल्को से करीब 40 किलोमीटर दूर तापाचुला शहर ले जाया गया है। पुल पर अभी भी क्षमता से अधिक लोग मौजूद हैं। मैक्सिको प्रशासन ने कहा कि जो लोग पुल पर हैं, पहले उन्हें देश में प्रवेश करने के लिए शरणार्थी दावों का आवेदन देना होगा। 

अमेरिका की तरफ बढ़ रहे होंडुरास के हजारों शरणार्थियों का कारवां मैक्सिको और ग्वाटेमाला के बीच एक पुल पर रुककर उत्तर की ओर जाने से पहले नदी पार कर मैक्सिको में घुस गया। ये शरणार्थी नदी में कूदकर मैक्सिको व अमेरिका को चुनौती देते हुए आगे बढ़ गए हैं। जबकि अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने चेताया कि इन्हें अमेरिका की तरफ बढ़ने से रोकने के लिए ‘सभी प्रयास’ किए जा रहे हैं।

गरीबी, अपराध और अस्थिरता से पीड़ित होंडुरास के हजारों लोगों के काफिले ने बेहतर जिंदगी की तलाश में अमेरिका की तरफ कूच किया है। यह कारवां ग्वाटेमाला और मैक्सिको से होते हुए अमेरिकी सीमा तक कई खतरे उठाता हुआ पहुंच रहा है। प्रवासियों ने सूचीआते नदी को पार करने का क्रम देर रात शुरू कर दिया था। मौसमी बारिश के चलते नदी में पानी की तेज रफ्तार के बीच कुछ प्रवासियों ने रात पुल पर बिताई तो कई लोगों ने हिम्मत करके नदी में ही छलांग लगा दी। पुल के नीचे एक मोटी रस्सी बांधकर प्रवासियों ने सीमा पार की। कुछ लोगों ने तैरकर तो कुछ ने राफ्ट पर नदी पार की।

हालांकि मैक्सिको प्रशासन अपने देश और ग्वाटेमाला के बीच सीमा पर बने एक पुल पर इस कारवां को रोकने में कामयाब रहा, लेकिन कई शरणार्थियों ने नदी में घुसने के बाद अमेरिका की तरफ बढ़ना शुरू कर दिया। ट्रंप ने ट्वीट किया, ‘अवैध नागरिकों को हमारी दक्षिणी सीमा पार करने से रोकने के लिए सभी प्रयास किए गए हैं। लोगों को पहले मैक्सिको में शरण के लिए आवेदन देना होगा और अगर वह ऐसा करने में नाकाम रहे, तो अमेरिका उन्हें वापस भेज देगा।’

मैक्सिको की तरफ बढ़ रहा 3000 लोगों का कारवां

संघीय पुलिस कमांडर के अनुमान के अनुसार, करीब 3000 लोगों का कारवां मैक्सिको की तरफ बढ़ रहा है। तकरीबन एक हजार शरणार्थियों में महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं, जो अब भी इस उम्मीद में सीमा पर स्थित पुल पर फंसे हैं कि वे अवैध रूप से ग्वाटेमाला के जरिये मैक्सिको में प्रवेश कर लेंगे। ग्वाटेमाला के राष्ट्रपति जिमी मोराल्स ने कहा कि होंडुरास से 5,000 से भी ज्यादा शरणार्थी ग्वाटेमाला में आये थे, लेकिन उनमें से करीब 2,000 स्वदेश लौट गए हैं।

पुल पर मौजूद हैं क्षमता से अधिक शरणार्थी

मैक्सिको प्रशासन ने पुल पर फंसे महिलाओं और बच्चों के लिए सीमा खोल दी और उन्हें सियुडैड हिडाल्को से करीब 40 किलोमीटर दूर तापाचुला शहर ले जाया गया है। पुल पर अभी भी क्षमता से अधिक लोग मौजूद हैं। मैक्सिको प्रशासन ने कहा कि जो लोग पुल पर हैं, पहले उन्हें देश में प्रवेश करने के लिए शरणार्थी दावों का आवेदन देना होगा। 

Loading...
Comments